[ews certificate up] जानिए कैसे करे आवेदन और जरुरी दस्तावेज

दोस्तों के साथ शेयर करे
Ews Certificate Up
ews certificate apply online up

ews certificate up भारत के उत्तरी क्षेत्र मे बसे राज्य के लोगों को एक और सौगात दी है जो जिसका फायदा उन सभी सामान्य वर्ग के लोगों को दिया जायेगा जो आर्थिक रूप से कमजोर है और अपनी आर्थिक समस्याओं का समाधान कर सकते है। उत्तर प्रदेश के सामान्य वर्ग के लोग भी एस.सी, एस.टी ओर ओबीसी वर्ग के लोगो की तरह ही आरक्षण का फायदा ले सकते है।

जो युवा सरकारी नौकरी मे अपनी किस्मत आजमाना चाहते है पर फिर भी वो आरक्षण की वजह से आगे नहीं आ पाते तो आपको बता दे की यह सरकारी योजना आपके लिए है।

अगर आप भी EWS Certificate Up के बारे मे पूरी जानकारी जानना चाहते है की इसके लिए कैसे आवेदन करे तो आप इस लेख को अंत तक पढे़ ताकि आपको इसकी पूरी जानकारी मिल सके। 

EWS Certificate kya hai ?

यह एक इकोनोमिकल विकर सर्टिफिकेट ( Economical Weaker Certificate )  है जो राज्य सरकार द्वारा जारी क्या जाता है। जो सामान्य वर्ग के लोग आर्थिक रूप से कमजोर है वे लोग इस प्रमाण पत्र को बनवा सकते है ताकि वे भी अन्य वर्गों की तरह आरक्षण का फायदा ले सकें।

इस योजना का उद्देश्य आर्थिक रूप से कमजोर लोगों को मदद पहुंचाना है। इस प्रमाण पत्र के दौरान सामान्य वर्ग के लोगो को 10 प्रतिशत का आरक्षण देते है। 

EWS Certificate के लाभ

बनाने के वैसे तो कई तरह के फायदे पर उनमें से कुछ फायदे आपको हम इस लेख के माध्यम से बता रहे है जो इस प्रकार है – 

  • इस प्रमाण पत्र को बनाने का सबसे बड़ा फायदा है की सामान्य वर्ग के लोगों को जो की आर्थिक रूप से कमजोर है उन्हे फायदा दिया जायेगा। 
  • सामान्य वर्ग के लोगो को इस प्रमाण पत्र के साथ 10 प्रतिशत तक का आरक्षण दिया जायेगा। 
  • सामान्य वर्ग के लोगो को इस प्रमाण पत्र के तहत नौकरी मे फायदा मिलेगा। 
  • अन्य वर्ग के लोगो की तरह सामान्य वर्ग के लोग भी की आरक्षण का फायदा ले सकते है। 
  • इस वर्ग मे उन लोगों को रखा जाएगा जो आर्थिक रूप से कमजोर है।
  • सिविल सेवा  जैसी भर्ती मे लाभ
  • शैक्षणिक संस्थाओ मे प्रवेश पर आरक्षण

EWS Certificate कैसे बनाए

EWS Certificate को बनाने के लिए आप इन स्टेप्स को फॉलो कर सकते है ताकि अगर आपको भी इस सर्टिफिकेट का आवश्यकता हो तो आप भी बना सके।

  • बनाने के लिए सबसे पहले आपको इस सर्टिफिकेट का एक फॉर्म भरना होगा जिसे आप इसकी आधिकारिक वेबसाइट से डाउनलोड कर सकते है वही इस फॉर्म को अपने नजदीकी सीएससी सेंटर से भी ले सकते है। 
  • इस फॉर्म मे आपसे मांगी गई जानकारी भर के आपको इसमें जरूरी दस्तावेज लगाकर नजदीकी सीएससी सेंटर पर जाकर जमा करवाना होगा। 
  • फाॅर्म के साथ कुछ जरूरी दस्तावेज जमा करवाने होंगे जिससे यह साबित हो सके की आप वास्तव मे सामान्य वर्ग के व्यक्ति है। 

EWS Certificate जरूरी दस्तावेज

  • आधार कार्ड – जो प्रार्थी इसके लिए आवेदन करना चाहते है उसके लिए यह जरूरी है की उसका स्वयं का आधार कार्ड हो। 
  • आई डी प्रूफ – आवेदक का एक आई.डी प्रुफ भी फाॅर्म के साथ जमा करवाना होगा। 
  • स्वयं घोषित प्रमाण पत्र – आवेदक को स्वयं का एक घोषणा पत्र भी फार्म के साथ देना होगा जिसमें यह लिखा हो की आप सामान्य वर्ग के व्यक्ति है एवं इस ईडब्लयूएस प्रमाण पत्र हेतु सारी मापदण्ता पूरी करते है। 
  • जमीन के दस्तावेज – आवेदक को अपना स्वयं या अपने पिता के जमीन के दस्तावेज भी दिखाने होंगे अगर हो तो। 
  • मूल निवास प्रमाण पत्र – आवेदक को अपने निवास स्थान का प्रमाण पत्र जैसे मूल निवास प्रमाण पत्र भी फार्म के साथ जमा करवाना होगा। 
  • फोटो – लाभार्थी के पास स्वयं का एक फोटो वर्तमान मे खींचा फोटो भी देना होगा जो की फॉर्म के साथ जमा होगा। 

EWS Certificate कौन जारी करता है

राज्य सरकार द्वारा जारी इस योजना के प्रमाण पत्र के दस्तोवज निम्न अधिकारी कर सकते है। 

  • जिला कलेक्टर / अतिरिक्त जिला कलेक्टर / सहायक कलेक्टर / एसडीएम 
  • मुख्य प्रशासनिक अधिकारी
  • तहसीलदार रैंक के ऊपर के रेवेन्यू अधिकारी
  • सम्बंधित ऐरिया के एसडीएम 
  • या एसडीएम के समान रैंक वाले अधिकारी

EWS Certificate in up की वैधता

सामान्यतः ईडब्ल्यूएस प्रमाण पत्र की मान्यता एक साल तक रहती है परन्तु फिर भी यह राज्य सरकार पर निर्भर है की वै इस प्रमाण पत्र पर कितनी वैधता देते है। 

निष्कर्ष

सामान्य वर्ग के गरीब परिवार के सदस्यों के लिए यह योजना उत्तर प्रदेश राज्य सरकार द्वारा चलाई गई है जिसमें सामान्य वर्ग के व्यक्तियों के लिए किसी भी सरकारी वैकेंसी या संस्थान मे प्रवेश मे 10 प्रतिशत तक का आरक्षण दिया जायेगा। यह प्रमाण पत्र राज्य सरकार के अधीन किसी भी उच्च अधिकारी द्वारा जारी किया जा सकता है। यह एक इकोनोमिकल विकर सर्टिफिकेट ( Economical Weaker Certificate )  है जो राज्य सरकार द्वारा जारी क्या जाता है।

जो सामान्य वर्ग के लोग आर्थिक रूप से कमजोर है वे लोग इस प्रमाण पत्र को बनवा सकते है ताकि वे भी अन्य वर्गों की तरह आरक्षण का फायदा ले सकें। उत्तर प्रदेश के सामान्य वर्ग के लोग भी एस.सी, एस.टी ओर ओबीसी वर्ग के लोगो की तरह ही आरक्षण का फायदा ले सकते है। जो युवा सरकारी नौकरी मे अपनी किस्मत आजमाना चाहते है पर फिर भी वो आरक्षण की वजह से आगे नहीं आ पाते तो आपको बता दे की यह सरकारी योजना आपके लिए है।

FAQ

प्रश्न 1 – EWS Certificate Up क्या है ?

उत्तर – यह एक इकोनोमिकल वीकर सर्टिफिकेट ( Economical Weaker Certificate )  है जो राज्य सरकार द्वारा जारी क्या जाता है। जो सामान्य वर्ग के लोग आर्थिक रूप से कमजोर है वे लोग इस प्रमाण पत्र को बनवा सकते है ताकि वे भी अन्य वर्गों की तरह आरक्षण का फायदा ले सकें।

प्रश्न 2 – EWS Certificate की वैधता कितनी होती है ?

उत्तर – सामान्यतः ईडब्ल्यूएस प्रमाण पत्र की मान्यता एक साल तक रहती है परन्तु फिर भी यह राज्य सरकार पर निर्भर है की वै इस प्रमाण पत्र पर कितनी वैधता देते है।

प्रश्न 3 – EWS Certificate के लिए जरूरी दस्तावेज

उत्तर – EWS Certificate के लिए जो भी जरूरी दस्तावेज है उनमे शामिल है – आधार कार्ड , आई डी प्रूफ , स्वयं घोषित प्रमाण पत्र , जमीन के दस्तावेज , मूल निवास प्रमाण पत्र , फोटो  इत्यादी

Leave a Reply